खाद्यान्न घोटाला मामले में वाराणसी के आर्थिक अपराध एवं अनुसंधान शाखा (ईओडब्ल्यू) ने बलिया में तीन को किया गिरफ्तार

बलिया : करीब डेढ़ दशक पुराने खाद्यान्न घोटाला मामले में वाराणसी के आर्थिक अपराध एवं अनुसंधान शाखा (ईओडब्ल्यू) की पुलिस ने शुक्रवार को बलिया जनपद के मनियर से तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। जिससे क्षेत्र में खलबली मच गई। मामला सन 2002 से 2006 के बीच संपूर्ण ग्रामीण रोजगार योजना के तहत खाद्यान्न वितरण में करोड़ों रुपए के घोटाले का है। जिसकी जांच के बाद आर्थिक अपराध एवं अनुसंधान शाखा (ईओडब्ल्यू) की टीम अचानक शुक्रवार को मनियर पहुंची और स्थानीय मनियर थाना पुलिस की मदद से मनियर के तत्कालीन ब्लाक प्रमुख प्रभुनाथ पटेल, मानिकपुर के कोटेदार ऋषिदेव सिंह और तत्कालीन सचिव तुलसीराम को गिरफ्तार कर लिया और साथ लेती गई। ईओडब्लू वाराणसी इंस्पेक्टर कृष्णमुरारी मिश्रा ने बताया कि खाद्यान्न घोटाला मामले में सभी को पकड़ा गया है। आपको बता दें कि करीब डेढ़ दशक पुराने खाद्यान्न घोटाले में आईएएस अधिकारी सहित तत्कालीन डीएसओ, तहसीलदार, सीडीओ, पीडी, बीडीओ, कोटेदार सहित करीब छः हजार लोगों पर गबन का मुकदमा दर्ज हुआ था। जिसमें बलिया जनपद के सभी 17 ब्लाकों के कोटेदार, अधिकारी व कर्मचारी आरोपित हुए थे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button