पशुधन घोटाला मामले में नाम आने पर दो डीआईजी को किये गये निलंबित

लखनऊ । उत्तर प्रदेश सरकार ने डीआईजी रूल्स और मैनुअल दिनेश दुबे और डीआईजी पीएसी अरविंद सेन को पशुधन घोटाले मामले में नाम आने पर निल॔बित कर दिया है। 9.72 करोड़ रुपये के पशुधन घोटाले में नाम आने पर राज्य सरकार ने इन दोनों अफसरों के खिलाफ ये कार्रवाई की। इससे पहले इस मामले में आरोपियों का मददगार हेड कांस्टेबल दिलबहार सिंह सस्पेंड किया गया था।

एसटीएफ की जांच में दोनों डीआईजी के घोटाले के मास्टरमाइंड आशीष राय से सीधे जुड़े होने के प्रमाण मिले है। वहीं पशुधन विभाग में हुए फर्जीवाड़े की एफआईआर हजरतगंज कोतवाली में दर्ज कराई गई थी। एसटीएफ से मिली जानकारी के मुताबिक आजमगढ़ में तैनाती के दौरान दोनों ही अफसरों की आशीष राय से बातचीत हुई थी।

इस मामले में पशुधन राज्यमंत्री जयप्रताप निषाद के निजी प्रधान सचिव रजनीश दीक्षित, निजी सचिव धीरज कुमार देव, इलेक्ट्रॉनिक चैनल के पत्रकार आशीष राय, अनिल राय, कथित पत्रकार एके राजीव, रूपक राय और उमाशंकर को 14 जून को गिरफ्तार किया गया था। मामले में जांच कर रही एसटीएफ ने आरोपित आशीष राय समेत नौ लोगों को गिरफ्तार कर फर्जीवाड़े का खुलासा किया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button