शेषनाथ आचार्य की पहल पर निपटा ढाई दशक पुराना विवाद

कमरौली गांव में भूमि विवाद का मामला

बलियाः उ.प्र. अनुसूचित जाति जनजाति आयोग सदस्य शेषनाथ आचार्य की पहल पर ढाई दशक पुराने भूमि विवाद का मामला निपटा दिया गया। दोनों पक्षों में आम सहमति के बाद भूमि विवाद को सुलझा लिया गया तो दोनों पक्ष ने संतोष जताया। जिसे लेकर पूरे दिन गांव में हलचल मचा रहा।


न्यायालय में चल रहा था मामला, दोनों पक्ष ने जताया संतोष
बिल्थरारोड विधानसभा क्षेत्र के कमरौली गांव में कमलेश यादव ओर मनोज गोंड के बीच पिछले करीब 25 वर्ष से भूमि विवाद का मामला चल रहा था। दोनों पक्ष न्यायालय में भी लड़ रहे थे किंतु ग्रामिणों की मौजूदगी और शेषनाथ आचार्य की पहल पर दोनों पक्ष के बीच सहमति बनाई गई और विवादित भूमि की नापी कराकर दोनों के बीच विवाद का निपटारा किया गया। जिससे दोनों पक्षों के साथ ही ग्रामिणों ने भी इस निर्णय पर सहमति जताई। आपको बता दें कि शेषनाथ आचार्य इन दिनों अपने गृह विधानसभा क्षेत्र बिल्थरारोड के दलित बस्तियों के समस्याओं के निराकरण को लेकर सक्रिय भूमिका में है। वे लगातार क्षेत्र में जनसंपर्क के तहत पार्टी के लाभकारी योजनाओं से भी लोगों को अवगत करा रहे है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *