बिल्थरारोड गोदाम में सड़ गया सैकड़ों कुंतल गेहूं, बोरा बदलने का हुआ खेल

जर्जर भवन में रखा किसानों का गेहूं और सड़ गए सैकड़ों कुंतल गेहूं

बलियाः मंडी समिति बिल्थरारोड के गोदाम में रखा सैकड़ों क्वींटल गेहूं बारिश के पानी में सड़ गया। गुरुवार को गोदाम से उठान के लिए गोदाम खुला तो समिति द्वारा गेहूं रखने के व्यवस्था की पोल भी खुल गई।

 

जर्जर भवन में रखा किसानों का गेहूं और सड़ गए सैकड़ों कुंतल गेहूं

सैकड़ों कुंतल गेहूं पानी से भिंग गए। जबकि अधिकांश बोरी गेहूं तो पूरी तरह से सड़ गए थे, कुछ जम गए थे और कुछ अंकुरित भी हो गए थे। जिसके कारण गुरुवार को पूरे दिन विभागीय अधिकारी बोरा बदल सड़ा हुआ गेहूं को जिला मुख्यालय पर ठिकाने लगाने और विभागीय लापरवाही छिपाने में लगी रही। बावजूद जिले से करीब 77 क्वींटल बोरा गेहूं सड़ा होने के कारण वापस बिल्थरारोड भेज दिया गया। इसकी लीपापोती भी जारी रही।

 

पुष्टि करने से बचते रहे अधिकारी, सात कुंतल की बात स्वीकारी

मंडी समिति सचिव राजकिशोर यादव ने गोदाम में बारिश के पानी से मात्र सात क्वींटल गेहूं खराब होने की पुष्टि की। बताया कि गोदाम में करीब चार हजार क्वींटल गेहूं जमा है। जिसे जिला मुख्यालय भेजा जा रहा है।

मंडी समिति बिल्थरारोड की बड़ी लापरवाही

– जर्जर भवन में रखा किसानों का गेहूं और सड़ गए सैकड़ों कुंतल गेहूं
– पुष्टि करने से बचते रहे अधिकारी, साल कुंतल की बात स्वीकारी
– मंडी समिति पर गेहूं क्रय में मनमानी की होती रही है शिकायत

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *