गेहूं क्रय के बदले नियमों के खिलाफ सपा ने एसडीएम को सौंपा ज्ञापन

बलियाः प्रदेश में गेहूं क्रय केंद्रों पर एकाएक गेहूं क्रय के बदलने नियमों को किसान विरोधी बताते हुए शुक्रवार को सपा नेताओं ने बलिया जनपद के बिल्थरारोड तहसील में जमकर विरोध किया और प्रति किसान 50 कुंतल गेहूं खरीद के प्रतिबंध को तत्काल हटाने के साथ ही क्षेत्र के सभी किसानों का गेहूं क्रय होने तक क्रय केंद्र का संचालन जारी रखने की जोरदार मांग की।

सपा के पूर्व जिलाध्यक्ष आद्याशंकर यादव, क्षेत्रीय अध्यक्ष इरफान अहमद और शिक्षक नेता आनंद यादव के साथ तहसील पर पहुंचे पूर्व विधायक गोरख पासवान ने अपनी मांगों के समर्थन में नारेबाजी की और किसानों समेत क्षेत्र के जनहित संबंधित राज्यपाल के नाम 12 सूत्रीय मांगपत्र की प्रतिलिपि एसडीएम सर्वेश यादव को सौंपा।

सपा नेताओं ने स्थानीय चुनिंदा पुलिस अधिकारियों का जनता के साथ किए जा रहे दुव्र्यवहार की भी जमकर आलोचना की और किसानों से गेहूं क्रय हेतु रजिस्ट्रेशन के नाम पर तहसील के कर्मचारियों द्वारा सुविधा शुल्क वसूली किए जाने की भी शिकायत की। जिसे एसडीएम ने गंभीरता से लेते हुए जल्द ही कार्रवाई का भरोसा दिया।

पूर्व विधायक गोरख पासवान ने गेहूं क्रय केंद्रों पर किसानों को निर्धारित समय में भुगतान कराने की मांग की। बताया कि कृषि मंडी पर किसानों को लिपिक के अभाव में उनके अनाज का पिछले एक माह से भुगतान नहीं किया जा रहा है। इस दौरान पूर्व विधायक गोरख पासवान, सपा के पूर्व जिलाध्यक्ष आद्याशंकर यादव, शिक्षक समाजवादी नेता आनंद यादव, क्षेत्रीय विधानसभा अध्यक्ष इरफान अहमद, प्रधान उमेश चैरसिया, अंगद यादव, अमलेश चैहान, कृष्ण मोहन यादव, विरेंद्र रामपुरी, जित्तू यादव समेत अनेक सपा नेता मौजूद रहे।

सपा नेताओं द्वारा जनहित में बलिया जनपद के बिल्थरारोड एसडीम को सौंपे गए ज्ञापन की प्रमुख मांग निम्न है।

1- गेहूं क्रय केंद्र पर किसानों से सीमित गेहूं खरीदने के प्रतिबंध को हटाने के साथ ही किसानों के खतौनी को आधार मानकर क्रय किया जाएं।
2- क्रय केंद्र पर 15 जून तक खरीद की समय सीमा के निर्धारण को अविलंब हटाया जाएं।
3- गेहूं क्रय केंद्रों पर किसानों को 15 दिन में भुगतान किया जाएं।
4- क्रय केंद्रों पर इंतजार में कई दिनों से अनाज लेकर खड़े किसानों के गेहूं का बारिश से हुए नुकसान की क्षतिपूर्ति दिया जाएं।
5- वैश्विक महामारी में कोरोना वायरस से निधन पर राष्ट्रीय आपदा के तहत परिजनों को पांच लाख की सहायता राशि दी जाएं।
6- बिल्थरारोड, सोनाडीह-बहोरवां मार्ग के क्षतिग्रस्त सड़क को तत्काल पीडब्ल्यूडी से बनवाया जाएं।
7- बिल्थरारोड में बिजली के टूटे तार व खंबों को बदलवाने एवं जले ट्रांसफार्मर को तत्काल दुरुस्त कराया जाएं।
8- सीयर सीएचसी पर जीवनरक्षक दवाओं के अभाव को दूर किया जाएं।
9- वित्तविहीन शिक्षकों को जीविकापार्जन हेतु तत्काल प्रत्येक माह का मानदेय दिया जाएं।
10- बढ़ते महंगाई को नियंत्रित किया जाएं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button