बलिया में राजस्व अधिकारियों की सुस्तीः 14 माह में डेढ़ किलोमीटर भी नहीं पहुंचा सके फाइल

 विभागीय शिथिलता से तहसील में ही लटकी है नगर विस्तार की रिपोर्ट

 

बलियाः योगी सरकार के राजस्व अधिकारियों की बलिया जनपद में सुस्ती बेमिसाल है। जो पिछले 14 माह में डेढ़ किलोमीटर भी राजस्व रिपोर्ट को नहीं पहुंचा सके। नगरपंचायत के प्रस्ताव पर नगर विस्तार की रिपोर्ट बनाकर राजस्व अधिकारी इसकी फाइल पिछले 14 महीने से अपनी जेब में लेकर घूम रहे है।

नगरीय विस्तार और नए निकाय गठन को लेकर भले ही योगी सरकार गंभीर हो किंतु बलिया के बिल्थरारोड तहसील में नगर विस्तार के प्रस्ताव को लेकर क्षेत्रीय प्रशासनिक अधिकारी पूरी तरह से बेपरवाह है। प्रशासनिक अधिकारियों व कर्मचारियों के सुस्ती का आलम यहां यह है कि बिल्थरारोड नगरपंचायत के सीमा विस्तार को लेकर राजस्व अधिकारियों की रिपोर्ट तैयार होने के बावजूद करीब 14 माह में महज दो किलोमीटर दूर नगरपंचायत कार्यालय तक नहीं पहुंच सका है।

  • नगरपंचायत ने राजस्व रिपोर्ट के लिए तीन बार तहसील को भेजा रिमाइंडर

नगरपंचायत द्वारा नगर विस्तार संबंधित राजस्व रिपोर्ट तहसील प्रशासन पिछले करीब 15 माह पूर्व ही नगरपंचायत प्रशासन ने तीसरी बार तहसील को पत्र भेजा था। बावजूद राजस्व निरीक्षक और लेखपालों की रिपोर्ट अब तक नगरपंचायत को नहीं मिल सका। जिसके कारण नगरपंचायत बिल्थरारोड विस्तार का मामला अधर में लटका है।

  • यह एरिया नगर में शामिल करने को है प्रस्तावित

ईओ ब्रजेश गुप्ता ने बताया कि बिल्थरारोड नगर विस्तार हेतु निकाय द्वारा पूर्व में बोर्ड द्वारा प्रस्ताव पारित कर दिया गया है। क्षेत्र के बिठुआं सीयर, कुण्डेल नियामतअली, रामपुर चंदायर, मसावं, अवायां का आंशिक भाग, चैकिया का आंशिक भाग पीडब्ल्यूडी सड़क से पश्चिम और इमिलिया व बीबीपुर का संपूर्ण भूखंडो को नगर में शामिल करने हेतु संबंधित राजस्व अधिकारियों की रिपोर्ट तहसील से मांगी गई है। तहसील के राजस्व टीम की रिपोर्ट मिलने के बाद ही नगर विस्तार की कार्रवाई आगे बढ़ सकेगी।

मालूम हो कि गत 2019 से ही नगर के आसपास के ग्रामिणों द्वारा क्षेत्र को नगर में शामिल करने की मांग किया जाता रहा है। जिसे गंभीरता से लेते हुए नगरपंचायत ने नगर विस्तार का प्रस्ताव बनाकर कार्रवाई शुरु कर दिया किंतु तहसील प्रशासन के राजस्व टीम की सुस्ती के कारण पिछले करीब डेढ़ वर्ष में आज तक एक रिपोर्ट तैयार नहीं हो सका।

  • तहसील की रिपोर्ट के बाद ही आगे बढ़ेगी कार्रवाईः चेयरमैन

नपं चेयरमैन दिनेश कुमार गुप्ता ने बताया कि बिल्थरारोड नपं विस्तार को लेकर लगभग सारी तैयारी पूरी हो गई है। निकाय बोर्ड में भी प्रस्ताव पारित किया गया है किंतु तहसील के राजस्व रिपोर्ट के अभाव में पूरा प्रस्ताव अधर में है। कहा कि नगर के विस्तार संबंधित कार्रवाई तहसील से मिले रिपोर्ट के आधार पर ही आगे बढ़ सकेगी।

  •  नक्शे से ही गायब है रेलवे लाइन इस पार की इमिलिया

बिल्थरारोड नगरपंचायत के नक्शे में इमिलिया मुहल्ला तो है किंतु रेलवे लाइन के पश्चिम का इमिलिया (बाहरी) का इलाका पूरी तरह से गायब है। जो आजादी के बाद से अब तक ग्रामपंचायत एवं नगरपंचायत के किसी भी भूअभिलेखों में दर्ज ही नहीं है। जिसके कारण यहां की करीब पांच सौ की आबादी का निवास प्रमाणपत्र भी नहीं बनता।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *