बिल्थरारोड में जले सात ट्रांसफार्मर जला, हजारों आबादी अंधेरे में

बलियाः जनपद के आखिरी छोर पर स्थित बिल्थरारोड नगर में ही दो मोबाइल ट्रांसफार्मर समेत सात ट्रांसफार्मर कई दिनों से जले पड़े है। जिससे हजारों की आबादी अंधेरे में है और विभाग लाचार सा बना हुआ है। सबसे ज्यादा विकट स्थिति तो नगर के जनता कोल्ड स्टोरेज के पास का है। जहां 400 केवीए का विद्युत ट्रांसफार्मर पिछले करीब 8 माह से जला हुआ है। इस दौरान मोबाइल ट्रांसफार्मर से ही बिजली आपूर्ति होती रही। विभाग ने करीब आठ माह बाद पिछले दिनों यहां विद्युत ट्रांसफार्मर लगाया तो दूसरे दिन ही ट्रांसफार्मर टें बोल गया। फिर से यहां मोबाइल ट्रांसफार्मर लगाई गई तो कुछ दिन बाद ही यहां मोबाइल ट्रांसफार्मर में आग लग गया और ट्राली भी जल गई। जिससे इस क्षेत्र में पूरी तरह से अंधेरा छा गया। इसी क्षेत्र से जुड़े वार्ड नं. 13 में मिश्रौली रोड पर भी पिछले करीब 20 दिन से 100केवीए का विद्युत ट्रांसफार्मर जला पड़ा है। पिछले पांच माह से इमिलिया रोड पर भी 250 केवीए का ट्रांसफार्मर जला हुआ है। जहां नगरपंचायत के 630 केवीए का विद्युत ट्रांसफार्मर से विद्युत आपूर्ति किया जा रहा है। स्थानीय रेलवे स्टेशन के समीप मालगोदाम रोड पर भी 400केवीए का ट्रांसफार्मर पिछले करीब 15 दिन से जला हुआ है। यहां भी नपं के मोबाइल ट्रांसफार्मर से काम चलाया जा रहा है। इस बीच पिछले एक सप्ताह से कृषि मंडी पर स्थित 250 कवीए का ट्रांसफार्मर जल गया। जिससे यहां भी अंधेरा छा गया। नगर में जले कुल करीब पांच ट्रांसफार्मर से नगर के वार्ड सं. एक, आठ, सात व छ का आंशिक भाग एवं वार्ड 13 का पूरा इलाका अंधेरे में डूबा हुआ है और लोग बिजली के साथ ही पानी तक के लिए तरस रहे है। नपं चेयरमैन दिनेश गुप्ता ने बताया कि नगरपंचायत द्वारा बिजली के वैकल्पिक व्यवस्था के तहत 400 केवीए का तीन एवं 630 केवीए का एक समेत चार मोबाइल ट्रांसफार्मर जहां-तहां लगाया गया है। किंतु विभाग द्वारा समय पर ट्रांसफार्मर न लगाने के कारण उक्त मोबाइल ट्रांसफार्मर ही पांच से 10 महीने तक एक ही जगह लगा रहता है। वर्तमान में एकसाथ कई ट्रांसफार्मर जले होने के कारण ओवरलोड से दो मोबाइल ट्रांसफार्मर भी जल गया है। जिसे भी विभाग ठीक नहीं करा पा रहा है। बिल्थरारोड विद्युत विभाग के एसडीओ अजय कुमार मिश्र ने बताया कि नगर से जले ट्रांसफार्मर की सूचना उच्चाधिकारियों को दी गई है। वर्कशाप से मिलते ही नगर में लगाया जायेगा। बताया कि चोरी से विद्युत जलाने वालों के कारण ही जहां-तहां ट्रांसफार्मरों पर ओवरलोड की समस्या बनी हुई है। इसमें राजनीतिक हस्तक्षेप भी ज्यादा है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button