डूडा विभाग द्वारा प्रधानमंत्री आवास में को जा रही वसूली -चेयरमैन

– पात्र को अपात्र व अपात्र को पात्र करने का चल रहा खेल
– आज भी गरीब झोपड़ी में रहने को विवश
– गरीबो तक नही पहुंच पा रही आवास की सूची

सिकंदरपुर (बलिया ) सरकार द्वारा पर योजनाओं को संचालित करने के लिए आम जनता तक पहुंचने वाली सुविधाओं को पात्रों तक पहुंचाने के लिए सभी सुविधाएं मुहैया कराई जा रही हैं बावजूद इसके नगर पंचायत सिकंदरपुर में प्रधानमंत्री आवास में हो रही वसूली को अधिकारी नहीं रोक पा रहे हैं। वही सुविधशुल्क देने वाले अपात्रो को भी मिल जा रहा है आवास । ज्ञात हो कि आदर्श नगर पंचायत सिकंदरपुर में प्रधानमंत्री आवास हेतु कुल 1105 पत्रों की सूची बनाई गई थी । जिसमें से अब तक 645 लोगों को प्रधानमंत्री आवास दे दिया गया उसके बाद से सूची में शामिल लोगों के नामों में प्रतिदिन पात्र अपात्र करने का खेल जारी है।  सर्वे को लेकर पूर्व में भी नगर पंचायत के लोगों द्वारा कर्मचारियों के खिलाफ आवेदन दिया गया था बावजूद उसके डूडा विभाग कर्मचारियों के साथ मिलीभगत कर उनके इस कृत्य में शामिल हो गया है। जिससे नगर पंचायत के लोगों में आक्रोश बढ़ता जा रहा है। वहीं नगर पंचायत चेयरमैन द्वारा कर्मचारी के खिलाफ परियोजना अधिकारी को पत्र लिखने के बावजूद भी आज तक कोई कार्रवाई नहीं की गई ।

नगर में आज भी गरीब अपने टूटे-फूटे घरों में रहने को बाध्य हैं कस्बा निवासी रमेश वर्मा, मिस्टर राजभर ,लवंगी देवी ,गौरी राजभर, शिवमंगल यादव, हरे राम चौहान ने बताया कि आए दिन हम लोगों के यहां आवास के नाम पर लोग आकर फोटो भी खींचते हैं और जिओ टैग के नाम पर पैसा भी लेते हैं लेकिन हम लोगों को आज तक प्रधानमंत्री आवास की सुविधा नहीं मिली जिस से लेकर आम जनता में आक्रोश बढ़ता जा रहा है । वही इस संबंध में चेयरमैन डॉ रविंदर वर्मा ने बताया कि प्रधानमंत्री आवास की देखरेख डूडा विभाग द्वारा की जाती है आज तक विभाग द्वारा हमें किसी प्रकार के प्रधानमंत्री आवास की सूची तथा पात्र अपात्र की सूची उपलब्ध नहीं कराई गई है । डूडा विभाग में कार्यरत जेई द्वारा मनमाने तरीके से नगर पंचायत में प्रधानमंत्री आवास के आवास के नाम पर वसूली की जाती है ।उनके खिलाफ पत्र लिखने के बावजूद भी आजतक डूडा विभाग द्वारा कोई कार्रवाई नहीं की गई।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button