प्रियंका ने बढ़ाया जिले का मान, पूरे प्रदेश में प्राप्त किया तीसरा स्थान

टीजीटी 2016 की परीक्षा में प्रदेश में मिला तीसरा स्थान

बलियाः जनपद बलिया के रसड़ा की प्रियंका सिंह ने कड़ी मेहनत से टीजीटी 2016 की परीक्षा में प्रदेश में तीसरा स्थान पाया है और बलिया का मान एकबार फिर पूरे प्रदेश में बढ़ा दिया है। रसड़ा के रोहना गांव की प्रियंका सिंह पत्नी प्रवीण सिंह ने कड़ी मेहनत के दम पर लगातार तीसरी नौकरी प्राप्त किया है। माध्यमिक शिक्षा सेवा चयन बोर्ड प्रयागराज द्वारा जारी टीजीटी 2016 सामाजिक विज्ञान का परिणाम जारी किया गया, जिसमें प्रियंका सिंह ने पूरे प्रदेश में बालिका वर्ग में तीसरा स्थान प्राप्त कर अपने गांव तथा जिले का नाम रोशन किया है।


लगातार तीन नौकरी पाने में सफल रही प्रियंका
प्रियंका सिंह ने कहा कि जो व्यक्ति विपरीत परिस्थितियों में भी धैर्य पूर्वक परिश्रम करता है उसे सफलता अवश्य मिलती है। उन्होंने इस सफलता का श्रेय अपने पूरे परिवार को दिया है। इस सफलता से पूरे ग्राम सभा में हर्ष की लहर दौड़ गई है। बताते चले कि इसके पूर्व प्राथमिक विद्यालय में तथा राजकीय इंटर कॉलेज में इनका चयन हो चुका है। उप्र माध्यमिक शिक्षा चयन बोर्ड द्वारा गुरुवार को जारी किए गये परिणाम में प्रियंका सिंह ने प्रदेश स्तर पर तीसरा स्थान प्राप्त करके अपने जनपद बलिया का मान बढ़ाया है। गुरुवार को जारी टीजीटी सामाजिक विज्ञान विषय का अंतिम परिणाम जारी किया गया था।
प्रदेश में मिला तीसरा स्थान
प्रियंका सिंह पत्नी प्रवीण सिंह ने प्रदेश भर में तीसरा स्थान हासिल किया है। मूलतरू रोहना बलिया की रहने वाली प्रियंका अपने पति प्रवीण सिंह के साथ सिविल सेवा की परीक्षाओं की तैयारी में लगे हुए हैं। इसके पहले प्रियंका का चयन राजकीय माध्यमिक कॉलेज में इसी पद के लिए हो चुका है तथा नियुक्ति बाकी है। इससे पहले प्राथमिक विद्यालय में सहायक शिक्षिका पद के लिए इनका चयन हुआ था, जिसे इन्होंने जॉइन नहीं किया था। प्रियंका ने अपनी सफलता का श्रेय पति प्रवीण सिंह को देते हुए कहा कि इनके प्रोत्साहन एवं समर्पित सहयोग से ही सफलताओं की यह झड़ी लग सकी है। साथ ही माता-पिता व सास-ससुर के आशीर्वाद एवं स्नेह को भी इन्होंने अपनी सफलता में सहायक बताया है। प्रतियोगियों को तैयारी में धैर्य एवं सतत परिश्रम को सफलता का मूलमंत्र बताया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *