राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री, केंद्रीय मंत्री और कुछ खास लोगों की ओर से मुख्यमंत्री की ओर से जाएगा गिफ्ट हैंपर

गिफ्ट बास्केट से और मजबूत होगी यूपी के ओडीओपी की ब्रांडिंग , दिवाली के खास मद्देनजर बेमिसाल है टेराकोटा का यह गिफ्ट हैंपर .

गोरखपुर का नायाब टेराकोटा, खुश्बू और स्वाद में बेमिसाल सिद्धार्थनगर का कालानमक चावल, बनारस के मशहूर सिल्क का स्टोल, विश्व विख्यात लखनवी चिकन का कुर्ता, मुज्जफरनगर के गुड़ की सोंधी मिठास, सहारनपुर का बेमिसाल वुडेन क्राफ्ट, इत्र नगरी कन्नौज का इत्र, प्रतापगढ़ का औषधीय गुणों वाला आंवला, चंदौली की जरी जरदोजी, मुरादाबाद का ब्रास बाउल, प्रयागराज का बास्केट। इनसे सजा ओडीओपी का गिफ्ट हैंपर इस दीपावली को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की ओर से देश के कुछ खास लोगो को जाएगा। इसमें राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री, केंद्रीय मंत्री और कुछ चुनिंदा लोग शामिल हैं।

इस गिफ्ट बास्केट के जरिये ये लोग भी यूपी के ओडीओपी उत्पादों की खासियत से वाकिफ होंगे। खास तौर पर दिवाली के लिए तैयार हो रहे ओडीओपी गिफ्ट बास्केट में पूजा के लिए पूरे विश्व में अपने तरह के अनूठे, मिट्टी से बने टेराकोटा शिल्प की गणेश लक्ष्मी की मूर्ति व दीये हैं। पकवान बनाने को गौतमबुद्ध की धरा सिद्धार्थनगर का कालानमक चावल है तो मिठाई के रूप में, मुजफ्फरनगर का गुड़ और औषधीय फल के रूप में प्रतापगढ़ के आंवले के उत्पाद हैं। त्योहार है तो नए कपड़े भी तो होने चाहिए। इसके लिए इस गिफ्ट हैंपर में लखनऊ के चिकन का कुर्ता तो महिला के लिए वाराणसी की सिल्क का स्टोल रखा गया है। इन कपड़ों को भीनी खुश्बू में सराबोर करने को कन्नौज का इत्र भी है। पकवान परोसने को मुरादाबाद का ब्रास बाउल, दस्तरख्वान सजाने को आजमगढ़ की ब्लैक पॉटरी का फूलदान और आगरा के मार्बल का टी कोस्टर भी इस बास्केट की खासियत बढ़ा रहा है। और हां, प्रयागराज के बास्केट में तैयार इस हैंपर में घर की साज सज्जा को चार चांद लगाने की सहारनपुर के लकड़ी के पेन स्टैंड व चंदौली के जरी जरदोजी की डिजाइन को कैसे भूला जा सकता है। कुल मिलाकर यह त्योहारी उपहार का ऐसा कंप्लीट पैकेज है जो विविधता व गुणवत्ता के लिहाज से बेमिसाल है। और तो और इस ओडीओपी गिफ्ट बास्केट की पैकेजिंग मल्टीनेशनल कंपनियों की त्योहारी तैयारी को भी मात देने वाली है।

यह ओडीओपी उत्पाद शामिल हैं गिफ्ट बास्केट में

गोरखपुर – टेराकोटा शिल्प के गणेश लक्ष्मी व दीये
सिद्धार्थनगर – कालानमक चावल
लखनऊ – चिकन का कुर्ता
वाराणसी – सिल्क का स्टोल
मुरादाबाद – ब्रास बाउल
आगरा – मार्बल का टी कोस्टर
आजमगढ़ – ब्लैक पॉटरी का फूलदान
सहारनपुर – लकड़ी का पेन स्टैंड
प्रतापगढ़ – आंवला
कन्नौज – इत्र
मुजफ्फरनगर – गुड़
चंदौली – जरी जरदोजी से बना डिजाइन
बास्केट – प्रयागराज

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button