माफिया मुख्तार के शूटर बेटे अब्बास के भी करीब रहे है जिपं सदस्य जनार्दन

बलिया के जिलापंचायत सदस्य जनार्दन यादव की मुश्किलें बढ़नी तय

उभांव पुलिस को मिली एक और फोटो


बलियाः माफिया डाॅन मुख्तार अंसारी के शूटर बेटे अब्बास अंसारी के भी बिल्थरारोड के जिलापंचायत सदस्य जनार्दन यादव काफी करीब थे। मुख्तार के बाद अब्बास के साथ भी पुलिस को जिलापंचायत सदस्य की फोटो मिली तो पुलिस का अब शक गहरा गया है। पुलिस की जांच दायरे में आई मणिपुर नंबर की संदिग्ध स्कार्पियों भी अब उनके घर से गायब है। जिसके कारण पुलिस अब मुख्तार गैंग के साथ जनार्दन के आपराधिक भूमिका की जांच में लग गई है।

मुख्तार गैंग संग आपराधिक भूमिका की जांच में जुटी पुलिस

पुलिस अब बलिया से मणिपुर तक के सभी सूत्रों की जांच कर रही है। जिसके बाद बलिया के वार्ड सं. 28 से निर्दल निर्वाचित जिलापंचायत सदस्य और कांग्रेसी नेेता जनार्दन यादव की मुश्किलें अब बढ़ती तय दिख रही है। फिलहाल वे बलिया में जिलापंचायत अध्यक्ष के चुनाव को लेकर चल रहे सियासी घमासान के बीच अंडरग्राउंड बताये जा रहे है।

जिलापंचायत सदस्य जनार्दन यादव की मुश्किलें बढ़नी तय

उभांव पुलिस ने रविवार को दूसरी बार उनके गांव अखोप में दबिश दिया। इस दौरान पुलिस संदिग्ध स्कार्पियों को जब्त कर ले जाने पहुंची थी किंतु पुलिस के पहुंचने से पहले ही गाड़ी गायब हो गई। पुलिस संदिग्ध गाड़ी के गायब होने को भी अपने शक को मजबूत होने का आधार मान रही है। पुलिस अब जनार्दन यादव का मुख्तार गैंग से आपराधिक कनेक्शन की जांच कर रही है। हालांकि पुलिस को अभी कोई बड़ी सफलता नहीं मिली है। लेकिन यह तय है कि पुलिस के जांच की रफ्तार के साथ ही जिलापंचायत सदस्य की मुश्किलें भी बढ़ना ही है।

दोबारा पुलिस ने दिया दबिश, फिर लौटी बैरंग

उभांव इंस्पेक्टर ज्ञानेश्वर मिश्र ने बताया कि जिलापंचायत अध्यक्ष के घर से संदिग्ध स्कार्पियों गायब है। जनार्दन यादव की माफिया डाॅन मुख्तार अंसारी एवं शूटर अब्बास अंसारी के साथ अलग-अलग फोटो मिली है। जिसके आधार पर अभी जांच हो रहा है। फिलहाल किसी तरह के लिखित कार्रवाई से इंस्पेक्टर ने इंकार किया है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *