बलिया में पकवाइनार चौकी इंचार्ज ने युवक को पीटा, विरोध में लोगों ने पुलिस चौकी घेरा और किया चक्का जाम

बलिया : जनपद बलिया के रसड़ा तहसील अंतर्गत पकवाइनार में बुधवार की देर शाम चौकी इंचार्ज सागर कुमार रंगु द्वारा उदयभान यादव (30) नामक युवक की निर्मम पिटाई के विरोध में जनाक्रोश भड़क गया और पुलिस की बर्बरता के खिलाफ परिजन और क्षेत्रवासियों ने पकवाइनार पुलिस चौकी घेर लिया। उग्र लोगों ने दोषी चौकी इंचार्ज के खिलाफ कार्रवाई करने और मौके पर एसपी के आने की मांग को लेकर पकवाइनार में रसड़ा-मऊ मार्ग पर चक्का जाम कर दिया। जिससे उक्त मार्ग पर आवागमन ठप हो गया और पुलिस प्रशासन के हाथ पांव फूलने लगे। उग्र लोगों ने रसड़ा-मऊ मार्ग को जाम कर धरने पर बैठ गये। जिससे वाहनों की लंबी कतार लग गयी। लोगों की माने तो पुलिस चौकी के समीप ही दोपहर तीन बजे के आसपास तीन युवक आपस में किसी बात को लेकर झगड़ा कर रहे थे।

इस बीच पास के ही उदयभान यादव भी मौके पर पहुँचा और मामला शांत कराने लगा। इधर सूचना मिलते ही चौकी इंचार्ज सागर कुमार रंगू भी पहुंचे और झगड़ा छुड़ाने का प्रयास कर रहे उदयभान की ही जमकर पिटाई कर दी, जिससे युवक लहूलुहान हो गया। पुलिस द्वारा युवक की निर्ममता से पिटाई की खबर मिलते ही उसके परिजन सहित सैकड़ों आक्रोशित लोग पुलिस चौकी पहुँच गए और पुलिस के खिलाफ नारेबाजी शुरू कर दी। कुछ लोग घायल युवक के साथ ही धरने पर बैठ गये। जिससे सड़क जाम हो गया।

सूचना मिलते ही सीओ एसएन वैश्य और प्रभारी निरीक्षक नागेश उपाध्याय भी मौके पर पहुँचे और उग्र लोगों को समझाने का प्रयास करने लगे किन्तु लोगों के गुस्से के कारण उन्हें सफलता नहीं मिली। प्रदर्शनकारी एसपी को मौके पर आने तथा दोषी चौकी इंचार्ज के निलंबन की मांग पूरी करने की जिद पर अड़े रहे। इस बीच सपा जिलाध्यक्ष राजमंगल यादव व मान सिंह सेंगर सहित अनेक सपा नेता भी मौके पर पहुँच गये। जिससे मामला राजनीतिक होता देख पुलिस सीधे बैकफुट पर आ गई। लगभग डेढ़ घण्टे तक चक्का जाम के बाद एसपी से मोबाइल से वार्ता के बाद सीओ ने द आरोपी चौकी इंचाज़ के विरुद्ध जॉच और कार्यवाई का आश्वासन दिया। जिसके बाद ही चक्का जाम समाप्त हो सका और पुलिस ने राहत की सांस ली।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button