दहेज के लिए पति ने शिक्षिका पत्नी को घर से निकाला, मुकदमा दर्ज

दहेज लोभी पति देवरिया जनपद के तमकुहीराज में है फूड आफिसर

31627043210092_अंतिमा

बलियाः दहेजलोभी ससुरालवालों से तंग आकर बिल्थरारोड नगर के बस स्टेशन निवासी और प्राथमिक स्कूल की शिक्षिका अंतिमा ने पुलिस से न्याय की अपील की है और अपने ससुरालवालों पर दहेज में दस लाख रुपया के लिए घर से निकाल देने का आरोप लगाया है। मामले में उभांव थाना पुलिस ने संबंधित धाराओं में आरोपी पति, ससुर, सास और देवर समेत पांच लोगों पर नामजद मुकदमा दर्ज कर किया है। मामले की जांच सीयर पुलिस चैकी इंचार्ज अतुल मिश्र द्वारा किया जा रहा है।

शादी में ले चुका है नगद मोटी रकम और हुंडई कार

पीड़िता अंतिमा प्राथमिक शिक्षिका है और उसका पति सच्चितानंद जायसवाल देवरिया जनपद के तमकुहीराज तहसील में फूड सेफ्टी आफिसर है। पीड़िता ने अंतिमा की शादी फरवरी 2020 में सच्चितानंद जायसवाल पुत्र राजेंद्र प्रसाद ग्राम गोठा तरकुलहा जनपद देवरिया निवासी के साथ हुआ था। जिसने दहेज में पहले ही नगद मोटी रकम और हुंडई कार दिया था। बावजूद शादी के बाद से ही उसके ससुराल वाले 10 लाख रुपया लेने के लिए उसे प्रताड़ित करने लगे और 30 मई की रात को जबरन घर से भी निकाल दिया। जिसके बाद से ही पीड़िता न्याय के लिए देवरिया से लेकर बलिया तक पुलिस थाना का चक्कर लगा रही थी। मामले में उभांव थाना पुलिस ने अब मुकदमा दर्ज कर जांच शुरु कर दिया है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *