बिल्थरारोड में नहीं बंद हुआ हल्दीरामपुर रेगुलेटर का फाटक

ताल के रास्ते आबादी में नदी मचाती है तबाही

बलियाः जनपद बलिया के बिल्थरारोड में घाघरा नदी से आबादी को बचाने के लिए बने हल्दीरामपुर रेगुलेटर का फाटक अधिकारियों के निरीक्षण के तीसरे दिन भी आज तक पूरी तरह से बंद नहीं किया जा सका है। जबकि क्षेत्रीय विधायक धनंजय कन्नौजिया और एसडीएम सर्वेश यादव ने शनिवार को ही रेगुलेटर का निरीक्षण किया था और संबंधित विभाग को तत्काल रेगुलेटर का फाटक बंद करने का निर्देश दिया था। बावजूद विभाग अब तक बेपरवाह बना हुआ है।

कोइली मुहान ताल में भरा घाघरा का पानी

नदी का पानी रेगुलेटर के रास्ते ताल में भरने से अब कोइली मुहान ताल और नदी का जलस्तर लगभग बराबर हो गया। अगर अब ताल में पानी बढ़ेगा तो आसपास के इलाकों में जलजमाव और बाढ़ का खतरा गहरा जायेगा। जिसके कारण आसपास के करीब 15 गांव की आबादी खतरे में है। यहां के किसान अब धान की रोपनी भी नहीं कर पायेगे।

विभागीय लापरवाही से 15 गांव की आबादी खतरे में

आपको बता दें कि पिछले साल ही विभागीय लापरवाही के कारण इन क्षेत्रों के हजारों की आबादी पूरी तरह से बाढ़ग्रस्त हो गई थी और कई गांवों में नाव चलने लगे थे। ताल भरने के बाद नदी का पानी पास के हल्दी चट्टी, धरहरा, बहुताचक उपाध्याय, शाहपुर अफगां, बहुता चैनपुर, चंदाडीह, महेंदुआ, बहाटपुर मठिया, सहिया, सोनबरसा, तेलमा समेत अनेक गांवों की आबादी की तरफ नदी जमकर तांडव मचाती है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *