पूर्व मंत्री ने बलिया के लिए की शहीदी पैकेज की मांग

बलियाः यूपी के बसपा सरकार में दिग्गज मंत्री रहे छट्ठू राम ने बलिया बलिदान दिवस पर बुधवार को शहीदी धरती बलिया के लिए शहीदी पैकेज की मांग की। कहा कि बाढ़ पैकेज, अयोध्या पैकेज, कोरोना पैकेज जब बन सकता है तो देश के आजाद होने से पांच वर्ष पूर्व ही तिरंगा लहराते हुए आजादी का जश्न मनाने वाले बागी बलिया के लिए शहीदी पैकेज क्यों नहीं हो सकता। पूर्व मंत्री छट्ठू राम ने वर्तमान भाजपा सरकार में बलिदानी धरती बलिया एवं बलिया के रणबांकुरों के सम्मान में शहीदी पैकेज के जल्द ही घोषणा की मांग की। कहा कि बलिया जनपद में शहीद वीर सपूतों के नाम पर विकास योजना की शुरुआत होनी चाहिए। यहीं वीर सपूतों को सच्ची श्रद्धांजलि भी होगी। वे गुरुवार को बलिया बलिदान दिवस पर वीर सपूतों को श्रद्धांजलि दने के बाद पत्रकारों से मुखातिब थे। साथ ही श्री राम ने बलिया जनपद के अब तक पिछड़े होने के लिए तत्कालीन सरकार एवं जनप्रतिनिधियों के राजनीतिक नाकामी को प्रमुख कारण बताया। स्थानीय चैकिया मोड़ पर आवास पर बुधवार को शारीरिक दूरी का पालन करते हुए आयोजित श्रद्धांजलि सभा में वीर सपूतों को नमन करते हुए पूर्व मंत्री ने बलिया जनपद के वीर गाथा का विस्तार से चर्चा किया। कहा कि देश में आजादी के करीब पांच वर्ष पूर्व ही तिरंगा लहराकर आजाद होने वाली बलिया की बागी धरती आज भी विकास के हर नजरिए से पिछड़ा हुआ है। जो शहीदी धरती का सबसे बड़ा अपमान है। देश के मोदी-योगी की सरकार में भी विकास की ट्रेन अयोध्या, लखनऊ, प्रयागराज से होकर काशी आते-आते रुक जाती है। यह चिंतनीय है। पूर्वांचल के गोरखपुर से यूपी में सीएम होने पर योगी जी से क्षेत्र को अनेक उम्मीदें थी किंतु इनके कार्यकाल में भी बलिया को निराशा ही मिली। कहा कि अगर बलिया के लिए शहीदी पैकेज की घोषणा होती है और शहीद वीर सपूतों के नाम पर बलिया में विकास योजनाओं को मूर्त रुप दिया गया तो देश की आजादी में अग्रणी भूमिका निभाने वाले बागी बलिया के शहीद वीर सपूतों को सबसे बड़ी व सच्ची श्रद्धांजलि होगी। इस दौरान प्रबंधक व समाजसेवी जावेद अनवर, समशेर सिंह, चंद्रभूषण तिवारी, उपेंद्र सिंह, सोनू सिंह, जितेंद्र राव, संजय, विनोद सिंह, अरविंद गौतम, अजीत, जयप्रकाश शर्मा व संत चैहान आदि मौजूद रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button