पूर्व प्रधान की धारदार हथियार से की गयी हत्या

गाजीपुर। बहरियाबाद थाना क्षेत्र के चक फरीद गांव के अधेड़ पूर्व प्रधान का अलसुबह शव मिलने से गांव में सनसनी फैल गई।
बताया गया कि चक फरीद गांव निवासी पूर्व प्रधान नूर मुहम्मद 55 वर्ष टहलने के लिए सबेरे साढ़े तीन बजे घर से निकले थे और फिर वापस नहीं लौटे। कुछ समय बाद गांव के लोग जब कब्रिस्तान की ओर गये तो वहीं समीप में उनका शव पड़ा मिला। यह सूचना कुछ ही देर में पूरे गांव में फैल गयी। जानकारी मिलते ही परिजन रोते पीटते कब्रिस्तान की ओर भागे। वहां नूर मुहम्मद का शव पड़ा था। उनके शरीर पर धारदार हथियार के चोट के निशान थे।

बताया गया कि नूर मुहम्मद सन् 1996 में अपनी ग्राम पंचायत के सदस्य चुने गए थे। चुनाव के करीब एक साल बाद महिला ग्राम प्रधान आरती सहाय के निधन के बाद नूर मुहम्मद कार्यवाहक ग्राम प्रधान बनाए गए थे। नूर मुहम्मद की पत्नी की बहरियाबाद बाजार में सौंदर्य प्रसाधन की दुकान है। इनकी अपनी कोई संतान नहीं थी और अपने साढू की बेटी को गोद लिया था।

हत्या की जानकारी मिलते ही थानाध्यक्ष रामनेवास पुलिस कर्मियों के साथ मौके पर पहुंच आवश्यक कारर्वाई में जूट गये। मृतक के भाई पीर मोहम्मद की तहरीर पर अज्ञात हमलावरों के विरुद्ध हत्या का मुकदमा दर्ज किया गया। पुलिस ने शव को कब्जे में ले कर पोस्टमार्टम के लिए भेंज दिया। घटना की सूचना पर क्षेत्राधिकारी महिपाल पाठक व अपर पुलिस अधीक्षक ग्रामीण गोपनाथ सोनी मौके पर पहुंच घटना की जानकारी ली।

वहीं दोपहर में पुलिस अधीक्षक डा. ओम प्रकाश सिंह स्वयं घटनास्थल पर पहुंच मौका मुआयना कर मातहदों को आवश्यक निर्देश दिया। पूछताछ में मृतक की पत्नी ने बताया कि जिस स्थान पर शव मिला है, वहां पर बैठकर प्रायः पूर्व प्रधान सुबह से ही शराब पीते थे। सम्भवतः शराब पीने के दौरान ही किसी परिचित ने उनकी हत्या कर दी होगी।

Related Articles

Back to top button