चरौवां बलिदान दिवस पर बिल्थरारोड के क्रांतिकारियों की वीरगाथा यादकर छलछला गई आंखें

बलियाः देश के स्वतंत्रता संग्राम की जंग में अपनी कुर्बानी देने वाले बिल्थरारोड के वीर क्रांतिकारियों को यादकर हर किसी की आंखें छलछला गइ्र। चरौवां बलिदान दिवस पर मंगलवार को चरौवां शहीद स्मारक समिति के बैनर तले शहीद स्थल पर श्रद्धांजलि सभा का आयोजन हुआ। जहां चरौवां के वीर सपूतों समेत क्षेत्र के सभी रणबांकुरों को श्रद्धांजलि दी गई। वैश्विक महामारी घोषित संक्रामक कोरोना से बचाव को शारीरिक दूरी का पालन करते हुए क्षेत्रीय लोगों ने नम आंखों से वीर सपूतों को याद किया और उनके वीरगाथा की चर्चा कर हर किसी की आंखें छलछला सी गई। कोरोना संक्रमण के कारण इस बार शहीद स्थल पर बलिदान मेला का आयोजन नहीं किया गया। जिससे लोगों में मायूसी छाई रही। बलिदान दिवस पर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के विभाग प्रचारक श्रीप्रकाश जी ने ध्वजारोहण कर शहीदों को नमन करते हुए श्रद्धासुमन अर्पित किया। मौजूद लोगों ने शहीद स्तूप पर माल्यार्पण कर अपनी भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की। जिनके बाद मौजूद लोगों ने शहीद स्पूत पर माल्यार्पण कर अपनी भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की। इस दौरान मौजूद लोगों द्वारा इंकलाब जिंदाबाद व भारत माता की जय के नारों से पूरा क्षेत्र गुंजायमान हो उठा। आरएसएस विभाग प्रचारक श्रीप्रकाश जी ने कहा कि देश की आजादी के जंग में चरौवां व बिल्थरारोड के वीर सपूतों का महत्वपूर्ण योगदान रहा है। वर्तमान पीढ़ी के युवाओं को देश के स्वतंत्रता सेनानियों से प्रेरणा लेने की जरुरत है। स्वतंत्र देश में अब लोगो को देश के लिए मरने की नही बल्कि देश के लिए जीने की आवश्यकता है। युवाओं को विस्तार से शहीदी गाथा से अवगत कराते हुए बताया कि गांव में अंग्रेजों के तांडव का मुकाबला करते हुए खरबियार, शिवशंकर सिंह, मंगला सिंह और मकतुलिया मालिन ने अपनी कुर्बानी दी। जिनकी शहादत के बदौलत ही देश आजाद हुआ और आज आजाद भारत में देश के युवा पूरी दुनिया में अपनी कामयागी के झंडे लहरा रहा है। जिनके आदर्शो को आत्मसात कर देश के प्रति समर्पण का जज्बां हर युवा में होना चाहिए। इस दौरान अरुण सिंह, सभापति बानबहादुर सिंह, अभिषेक सिंह, प्रवीण वर्मा, मोहन गुप्ता, अवनीश सिंह, प्रिंस सिंह, मुन्ना सिंह, देवेंद्र पांडेय, शिवा जी यादव, परमानंद वर्मा, सुनील कनौजिया आदि मौजूद रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button