दो तिहाई बेल्जियम के बराबर अमेज़ॅान जंगल खो दिया है पृथ्वी ने

ब्राज़ील के मौजूदा राष्ट्रपति जैर बोल्सनारो के पदभार संभालने के बाद से ब्राज़ील के अमेज़ॅान जंगल ने बेल्जियम के दो तिहाई हिस्से जितना क्षेत्र खो दिया है। आज जारी किए गए आधिकारिक डेटा के अनुसार ब्राजील के अमेज़ॅन में वनों की कटाई की ताज़ा दर 9.205 वर्ग किलोमीटर रही जो की पिछले 12 महीनों (2018-19) के मुकाबले 34 प्रतिशत की वृद्धि बताती है। यह वृद्धि दर अगस्त 2018 और जुलाई 2019 के बीच में हुई कटाई की वृद्धि दर के समान ही पहुंच गयी है, जब अमेज़ॅान वन ने 10,129 किमी² वन खोया था और 2017-18 के मुक़ाबले वृद्धि भी 34 प्रतिशत की थी। अगर सरल शब्दों में कहा जाए तो बोल्स्नारो के शासन में अमेज़ॅान जंगल दोगुनी रफ़्तार से बर्बाद हो रहे हैं। अगर जंगल की कटाई का सिलसिला यूंही चलता रहा तो अमेज़ॅान अगले 20 वर्षों से पहले ही एक बेहद संवेदनशील स्थिति में पहुंच सकता है। इससे असर यह होगा कि वहां का क्षेत्रीय मौसम का पैटर्न और स्थायी रूप से बदल सकता है। साथ ही, जीवित वर्षावन सूखे सवाना में बदल सकता है और अरबों टन कार्बन वायुमंडल में रह कर उसे बर्बाद कर सकती है। अगस्त 2019 और जुलाई 2020 के बीच पाया गया कि वनों की कटाई का क्षेत्र दो साल पहले की तुलना में 101% अधिक है, जिसका अर्थ है कि बोल्सनारो की सरकार ने ब्राजील के अमेज़ॅन वन के विनाश की गति लगभग दोगुनी कर दी।

Aerial-view-of-the-Amazon-006

गौरतलब है कि अमेज़न दुनिया का सबसे बड़ा रेनफॉरेस्ट (वर्षावन) है, जो धरती  पर सबसे बड़ी जैव विविधता का घर है और एक विशाल कार्बन सिंक है। पर अगर नष्ट हो गया तो यह ग्रीन हाउस गैसों (GHG) के उत्सर्जन का एक गंभीर  स्रोत है क्योंकि जब पेड़ों को काटा जाता है, तो ग्लोबल वार्मिंग में तेजी लाते हुए CO2 की एक बड़ी मात्रा वायुमंडल में उत्सर्जित होती है। ब्राजील में GHG (जीएचजी) उत्सर्जन के 44 प्रतिशत के लिए वनों की कटाई ज़िम्मेदार है – यह दुनिया में 6वाँ सबसे बड़ा उत्सर्जक है। 2020 में, वनों की कटाई और कृषिक्रम के कारण, देश 2018 से सबसे हाल के आंकड़ों की तुलना में 10-20 प्रतिशत अधिक ग्रीनहाउस गैसों का उत्सर्जन कर सकता है। ज्ञात हो कि ब्राजील के अमेज़ॅन जंगल में आग का मौसम शुरू हो चुका है और हम शायद 2019 से भयावह छवियों का दोहराव देखेंगे या स्थिति को और भी ज़्यादा बिगड़ते हुए देखेंगे। अमेज़ॅन वन को कृषि योग्य भूमि में बदलने की प्रक्रिया में आग केवल एक कदम है। आग में जलकर खाली ज़मीन पर या तो सोया की खेती की जाती है और या पशुपालन के काम में लाई जाती है। अमेज़ॅान एनवायरनमेंटल रिसर्च इंस्टीट्यूट (आईपीएएम) के अनुसार, पिछले साल  कब्ज़ा किए गए 87,000 से अधिक हॉट स्पॉट के लिए ऐसी आग लगने की घटनाएं ज़िम्मेदार थीं । अगर हम 20 महीने की अवधि पर विचार करते हैं क्योंकि 2019 की पहली जनवरी को जैर बोल्स्नारो ने पदभार संभाला है, तो अमेज़ॅन वर्षावन ने 20.500 किमी² खो दिया – जो कि बेल्जियम (30. 689 किमी²) के लगभग दो तिहाई हिस्से के बराबर है और आधे स्विट्जरलैंड (41.285 किमी²) के बराबर है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button