पूर्व मंत्री के अनशन की चेतावनी पर विभागों को किया अलर्ट

एसडीएम ने संबंधित विभागों को जारी किया पत्र, दिया निर्देश

बलिया: जनपद के बिल्थरारोड जिलापंचायत डाकबंगला के समीप गरीबों के लिए वर्षों से बनकर तैयार आसरा व कांशीराम आवास को जल्द ही आवंटित किया जाने समेत सात सूत्रीय मांगों को लेकर 23 सितंबर से होने वाले आंदोलन की चेतावनी पर प्रशासनिक अमला भी सक्रिय हो गया है। एसडीएम संतलाल ने पूर्व मंत्री छट्ठू राम के सभी मांगों से संबंधित विभागों को पत्र भेजकर कार्रवाई के निर्देश दिए है। एसडीएम ने नगर पंचायत अधिशासी अधिकारी को पत्र भेजकर कांशीराम व आसरा आवास के तहत कमरों को आवंटन किए जाने एवं विलंब के लिए जिम्मेदारी तय कर लापरवाह अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई करने हेतु निर्देशित किया है। साथ ही अधिशासी अभियंता बाढ़ खंड बलिया को भी पत्र भेजा और मांगों का जिक्र करते हुए सरयू के बाढ़ एवं करमौता ताल व फरही ताल के समीपवर्ती इलाकों में जलजमाव, कटान से प्रभावित किसानों एवं इलाकाईयों को क्षतिपूर्ति मुआवजा तथा तुर्तीपार शमशान घाट एवं रास्ते का सरयू से हो रहे कटान से बचाव के लिए कटानरोधी कार्य किए जाने के लिए निर्देशित किया है। गोंड समाज हेतु अनुसूचित जनजाति का जाति प्रमाणपत्र दिए जानेे को लेकर नियमानुसार कार्रवाई करने हेतु तहसीलदार को भी निर्देशित किया है। बिल्थरारोड के चैकिया मोड़-मधुबन मार्ग के जर्जर सड़क एवं चैकिया मोड़-पिपरौली-बेल्थराबाजार मार्ग के जर्जर सड़क का निर्माण करने हेतु अधिशासी अभियंता पीडब्ल्यूडी बलिया एवं बिल्थरारोड नगर समेत सोनाडीह फीडर एवं सभी ग्रामीण इलाकों केक जर्जर विद्युत तार को अविलंब बदलने के लिए अधिशासी अभियंता विद्युत विभाग को भी पत्र भेजा और उक्त सभी समस्याओं के निराकरण हेतु निर्देशित किया है।

कागज में फरमान नहीं, जमीनी कार्रवाई तक जारी रहेगा आंदोलनः छट्ठू राम

बलिया: जनपद के बिल्थरारोड विधानसभा के विभिन्न सात सूत्रीय मांगों को लेकर 23 सितंबर से आंदोलन किए जाने के संकल्प को दोेहराते हुए पूर्व मंत्री छट्टू राम ने कहा कि एसडीएम द्वारा सभी सात सूत्रीय मांगों को लेकर संबंधित विभागों को पत्र भेजा गया है। लेकिन जमीनी स्तर पर कोई बदलाव नहीं दिख रहा है। कहा कि कागजी फरमान से समस्या का समाधान नहीं होने वाला। समस्या के निस्तारण होने तक हर हाल में आंदोलन जारी रहेगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button