बेटियां हो सेल्फ डिपेंडेंबल, बेटों को मिले संस्कार

बलिया: बलिया जनपद के बिल्थरारोड स्थित न्यू सेंट्रल पब्लिक स्कूल पर शनिवार को नारी सशक्तिकरण विषयक पर आयोजित संगोष्ठी में वक्ताओं ने कहा कि बेटियों को आत्मसुरक्षा हेतु सेल्फ डिफेंस की जानकारी एवं बेटों में संस्कार होना बहुत जरुरी है। जिसके बाद कोई भी बेटी अबला व कमजोर हो ही नहीं सकती। बतौर मुख्य अतिथि उभांव इंस्पेक्टर योगेंद्र बहादुर सिंह ने कहा कि छात्राओं में ही वह पावर है, जिससे वह हर बुराई का खात्मा कर सकती है। श्री सिंह ने शासन द्वारा महिला सुरक्षा हेतु चल रहे टोल फ्री नंबर की जानकारी देते हुए छात्राओं से कभी भी बेझिझक पुलिस से मदद लेने की अपील की। बताया कि जरुरत पड़ने पर छात्रा व महिलाओं के मामले में शिकायतकर्ता की पहचान भी गोपनीय रखी जाती है।

इस दौरान छात्राओं ने एक सजीव एकांकी की प्रस्तुतिकर मनचलों से लड़ने का डेमो दिखाया। जिसे हर किसी ने सराहा। योग प्रशिक्षक मंजीत कुमार ने भी छात्राओं को मनचलों से निपटने हेतु कराटे का डेमो दिखाया। एक नारी समाज के निर्माण में किस-किस रुप में योगदान दे सकती है और बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ विषयक पर छात्रों ने पेंटिंग पोस्टर प्रदर्शनी भी किया। जिसे देख इंस्पेक्टर योगेंद्र बहादुर सिंह व प्रबंधक सतीश दुबे ने जमकर तारीफ की। इस दौरान महिला आरक्षी अनुराधा पांडेय व अंजू पाल, प्रबंधक सतीश दुबे, प्रधानाचार्या श्रीमती पूनम प्रसाद, खेल प्रशिक्षक मंजीत कुमार, आनंद श्रीवास्तव, ताइक्वांडो कोच उदित राज गुप्ता, मोनिका दुबे, महक, मुस्कान, उमैरा, खुशी, नेहा, अमृता, विजय लक्ष्मी, खुश्बू आदि छात्राएं व गणमान्य लोग मौजूद रहे। संचालन आनंद श्रीवास्तव ने किया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button