भारतीयों को अगवा किए जाने के मामले कुछ भी बोलने से कतराया चीन- बताने को कुछ नहीं, अरुणाचल पर फिर किया दावा

बीजिंग : पांच भारतीय नागरिकों को पीएलए द्वारा अगवा किए जाने को लेकर चीन ने कुछ भी जानकारी देने से इनकार किया है। चीनी विदेश मंत्रालय ने इन आरोपों का खंडन किए बिना एक बार फिर अरुणाचल प्रदेश को अपना बताया। चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा कि यह चीन के दक्षिण तिब्बत का हिस्सा है।

चीन सरकार के मुखपत्र ग्लोबल टाइम्स के मुताबिक विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता झाओ लिजियान ने कहा, ”चीन ने कभी कथित अरुणाचल प्रदेश को मान्यता नहीं दी है, जोकि चीन के दक्षिण तिब्बत का हिस्सा है। क्षेत्र में पांच भारतीयों के गायब होने को लेकर भारतीय सेना द्वारा पीएलए को भेजे गए संदेश को लेकर हमारे पास अभी कोई ब्योरा नहीं है।”

गौरतलब है कि अरुणाचल प्रदेश के कांग्रेस विधायक निनॉन्ग एरिंग ने दावा किया है कि चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी ने अरुणाचल प्रदेश के सीमावर्ती इलाके से पांच भारतीयों को कथित रूप से अगवा कर लिया है। एरिंग ने पीएमओ को टैग कर अपने ट्वीट में दावा किया कि अरुणाचल प्रदेश के सुबनसिरी जिले के पांच लोगों को अगवा किया गया है।  उन्होंने यह भी लिखा कि कुछ महीने पहले भी इस तरह की घटना हुई थी।

बीजेपी सांसद और केंद्रीय मंत्री किरन रिजिजू ने भी अरुणाचल प्रदेश के 5 निवासियों को अगवा किए जाने पर चिंता जाहिर करते हुए कहा है कि भारतीय सेना ने रविवार को अपने PLA समकक्ष को हॉटलाइन संदेश भेजा था। ऐसे में चीन की इस प्रतिक्रिया से भारतीय नागरिकों को लेकर चिंता और बढ़ गई है।

Related Articles

Back to top button