एआईएमआईएम ने बलिया में मजबूत किया संगठन, सदस्यता अभियान में कई हुए शामिल

बलियाः जनपद में एआईएमआईएम ने भी अपना संगठन मजबूत करने की मुहिम तेज कर दिया है। जिसके तहत सोमवार को जनपद के बिल्थरारोड तहसील अंतर्गत फरसाटार गांव स्थित एक स्कूल पर पार्टी पदाधिकारियों की बैठक हुई। जहां जिलाध्यक्ष अमानुल हक अब्बासी के देखरेख में सदस्यता अभियान भी चलाया गया। जिसके तहत रसड़ा व बलिया के दर्जनों लोगों ने पार्टी की सदस्यता ग्रहण की। एआईएमआईएम के वरिष्ठ नेता खालिद चैधरी ने समाजिक न्याय की लड़ाई के बहाने पिछडे, दलित और अल्पसंख्यकों के बूते सत्ता में पहुंचे अब तक के तमाम दलों ने एक खास वर्ग का ही उत्थान किया है और समाज के वंचित, दलित, अतिपिछड़े एवं अल्पसंख्यकों के पीठ में चाकू मारने का काम किया है। जिलाध्यक्ष अमानुल हक अब्बासी ने देश के दलितों और मुसलमानों के पिछड़ेपन के लिए पूर्ववर्ती सरकारों के अन्यायपूर्ण नीतियों को जिम्मेदार ठहराया। कहा कि मुसलमान समुदाय आज हर तरह से पिछड़ा हुआ है। सभी पार्टियों ने सेकुलर का मुखौटा पहन मुसलमानों का सिर्फ इस्तेमाल किया है। कहा कि एआईएमआईएम समाज के शोषित, दलित, पिछड़े व सवर्ण समाज के पिछड़़े लोगों की लड़ाई भी लड़ेगी। बैठक में रसड़ा विधानसभा के मकबूल अहमद ने दर्जनों साथियों के साथ एआईएमआईएम की सदस्यता ग्रहण की। नवमनोनित पदाधिकारियों को जिलाध्यक्ष अमानुल हक अब्बासी ने मनोनयन पत्र सौंपा। इस दौरान रसड़ा विधानसभा अध्यक्ष पद पर मकबूल अहमद, बलिया नगर का नगर अध्यक्ष कमाल सिद्दीकी व बिल्थरारोड विधानसभा सचिव रिजवान अहमद को बनाया गया। बैठक को एआईएमआईएम नेता हृदय पांडेय, आबान हसन, मकबूल अहमद व कमाल सिद्दीकी ने संबोधित किया। इस दौरान असगर आरिफ, शाहबाज, मौलाना कलीम, सोनू, ओमप्रकाश शास्त्री व समीर फारुकी आदि मौजूद रहे। अध्यक्षता खालिद चैधरी व संचालन शाहीन आलमन ने किया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button