दुराचारी बाल अपचारी गिरफ्तार

[tags 

सिंगरौली ,

मोरवा पुलिस]

नाबालिग किशोरी को बंधक बना एक पखवारे तक करता रहा शारीरिक शोषण, मोरवा पुलिस ने कई धाराओं में दर्ज किया प्रकरण

सिंगरौली। मोरवा पुलिस ने एक दुराचारी 17 वर्षीय किशोर को आईपीसी की कई गंभीर धाराओं में गिरफ्तार कर बाल न्यायालय के समक्ष प्रस्तुत किया। जहां से आरोपी को बाल सुधार गृह भेज दिया गया। गिरफ्तार आरोपी एक 16 वर्षीय नाबालिग किशोरी को बहला- फुसलाकर बंधक बनाया और फिर उसे एक किराए के कमरे में रख एक पखवारे से भी अधिक समय तक बलपूर्वक उसका दैहिक शोषण करता रहा जिसे गोरबी बस्ती से गिरफ्तार किया गया है।

मोरवा पुलिस के अनुसार गत 18 अगस्त को एक 16 वर्षीय नाबालिग किशोरी थाना आकर रिपोर्ट दर्ज कराई कि पिछले महीने (जुलाई) की 16 तारीख को गोरबी निवासी एक 17 वर्ष का लड़का राजा प्रजापति (बदला हुआ नाम) मुझे लेकर गोरबी चला आया। यहां एक किराए के मकान में रखकर मेरे साथ बलपूर्वक लगातार दैहिक शोषण करता रहा। किशोरी द्वारा दी गई तहरीर के मुताबिक बीते 2 अगस्त को किसी तरह उसके चुंगल से छूटने के बाद घर वालों की मदद से मोरवा थाने पहुंची और पुलिस को आपबीती बताई।

किशोरी के बयान के अनुसार रिपोर्ट दर्ज कर पुलिस अधीक्षक बीरेंद्र कुमार सिंह के निर्देशन व अनुविभागीय अधिकारी राजीव पाठक के मार्गदर्शन में थाना प्रभारी मोरवा मनीष त्रिपाठी द्वारा बाल अपचारी के खिलाफ अपराध क्रमांक 373/20 धारा 363, 366 ए, 376, 376 (1), 376 (2) (एन) भादवि एवं पास्को एक्ट के तहत मामला कायम कर विवेचना का कार्य महिला डेस्क प्रभारी मोरवा उपनिरीक्षक रूपा अग्निहोत्री को सौंपा गया। मामले की विवेचना के दौरान ग्राम पेड़ताली निवासी 17 वर्षीय आरोपी को गोरबी बस्ती से पकड़कर बाल न्यायालय बैढन
में पेश किया गया।

उपरोक्त कार्रवाई में उप निरीक्षक रूपा अग्निहोत्री के साथ सहायक उप निरीक्षक साहबलाल सिंह, प्रधान आरक्षक डी एन सिंह, अरविंद चौबे, राजवर्धन सिंह, संतोष सिंह, आरक्षक संजय परिहार, महिला आरक्षक शशिबाला सिंह शामिल थे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button