आजमगढ़ में पिता-पुत्र की गोली मारकर हत्या

आजमगढ़ । यूपी के आजमगढ़ जिले में गुरुवार की शाम बोलेरो सवार पिता-पुत्र की गोली मार कर हत्या कर दी गई। हत्या से पहले फोन कर किसी ने पिता-पुत्र को अपने घर बुलाया था। देवगांव कोतवाली के अकबालपुर सहना गांव स्थित इंजीनियरिंग कालेज के मोड़ पर हुई हत्या की सूचना मिलते ही पुलिस प्रशासन में हड़कंप मच गया। मौके पर पहुंचे पुलिस अधिकारी देर शाम तक जांच पड़ताल में जुटे रहे। अब तक जांच में हत्या का कारण ग्राम प्रधानी को लेकर चुनावी रजिश का मामला आ रहा है।

देवगांव कोतवाली के नाऊपुर गांव के 48 वर्षीय हीरा यादव उर्फ मिठाई लाल यादव और उसका 22 वर्षीय बेटा तेज यादव गुरुवार की शाम घर पर ही थे। शाम को किसी ने हीरा यादव के मोबाइल पर फोन किया। बातचीत के  दौरान उसने गांव से बाहर आकर मिलने की बात कही। इस पर हीरा अपने बेटे तेज को लेकर बोलेरो से घर से निकल गया। लगभग एक किमी दूर देवगांव-ज्यूली मार्ग पर अकबालपुर सहना गांव स्थित इंजीनियरिंग कालेज के मोड़ पर पहुंचा, जहां दुकान पर बाप-बेटे चाट खा रहे थे। वहीं पर फोन कर बुलाने वाले का घर भी है।

इसी बीच कुछ लोग वहां पहुंचे। बातचीत के दौरान ही पिता-पुत्र को गोली मार दी और फरार हो गए। गोली लगते ही पिता-पुत्र लहू-लुहान होकर गिर पड़े। पिता ने मौके पर ही दम तोड़ दिया। बेटे की लालगंज सीएचसी पर मौत हो गई। सनसनीखेज वारदात की जानकारी मिलते ही देवगांव कोतवाली पुलिस के साथ ही सीओ लालगंज अजय यादव, एसडीएम लालगंज मौके पर पहुंचे।

ग्रामीणों की भीड़ के चलते रोड पर जाम लगा रहा। तहसील के अधिकारी पुलिस अधीक्षक के आने के इंतजार में रोड किनारे शव को रख कर जाम हटाने में लगे रहे। देवगांव कोतवाली प्रभारी निरीक्षक विमलेश कुमार मौर्य ने बताया कि परिजनों से पूछताछ में हत्या के पीछे ग्राम प्रधानी की चुनाव की रंजिश सामने आई है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button